स्लॉट उपलब्ध अर्थ मलयालम

स्लॉट उपलब्ध अर्थ मलयालम

time:2021-10-27 10:52:33 एक्सिस बैंक ने कर्मचारियों का वेतन 12% तक बढ़ाया Views:4591

पोकर जीटीओ स्लॉट उपलब्ध अर्थ मलयालम 188bet दर्पण,casumo सत्यापन,lovebet 1x2 टिप्स,lovebet एक्सचेंज,lovebet ने उन्हें उद्धृत किया,lovebetौ माली,बैकारेट १८७१ डोल्से फ़ार निएंटे,बैकारेट ज्वेलरी,बैटरी कनेक्शन,सट्टेबाजी यूट्यूब बनाम टिकटोक,कैसीनो ऊर्जा,कैसियो क्वार्ट्ज,क्रिकेट 11,क्रिकेट रेडिट,भारत में निर्यात,फुटबॉल 0-0,फ़ुटबॉल URL बैकअप,गोल्डन चिप्स लवबेट,ऑनलाइन लॉटरी सट्टेबाजी कैसे खोलें,क्या बैकारेट एजेंट ऑनलाइन गेम विश्वसनीय है?,जंगल रम्मी ऑनलाइन लॉगिन,लाइव कैसीनो जीप सस्ता,लॉटरी चेक,लूडो जीतो,ओ खेल लोगो,ऑनलाइन गेम कुकिंग,ऑनलाइन पोकर zadarmo,परिमच वोड,पोकर पेस्ट,री फुटबॉल हाई स्कूल,रूलेट केरेको,रम्मीकल्चर गेम कैसा खेला जाता है,स्लॉट मशीन याकूब एक ड्रैगन की तरह,खेल पेय,स्पोर्ट्सनेट 0,टेक्सास होल्डम जिंगा डाउनलोड,यूईएफए चैंपियंस लीग फुटबॉल मेस्सी,बैकारेट खेलने के लिए कौन सा कैसीनो सबसे सुरक्षित है,21 बजे live,ऑनलाइन पैसे बनाएं bihar,क्रिकेट एकेडमी फ्री,गोवा यात्रा,तीन पत्ती बैकग्राउंड,बकरी ज्ञापन कैसे हो,बैकारेट word,स्टेटस ॲप्स डाऊनलोड, .एक्सिस बैंक ने कर्मचारियों का वेतन 12% तक बढ़ाया

यह बढ़ोतरी एक अक्टूबर से लागू है. जबकि आमतौर पर वेतन प्रत्येक वित्त वर्ष की शुरुआत में एक अप्रैल से बढ़ाया जाता रहा है.
मुंबई : देश में निजी क्षेत्र के तीसरे सबसे बड़े बैंक एक्सिस बैंक ने अपने 75,000 कर्मचारियों के वेतन में 12 फीसदी तक बढ़ोतरी की है. एक सूत्र ने मंगलवार को बताया कि बैंक पहले ही एक निश्चित रैंक से नीचे के अधिकारियों को वार्षिक बोनस दे चुका है. अब सभी को बोनस दिया जाएगा.

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.

इसे भी पढ़ें : कोविड के बीच जानिए कहां मिल रही हैं नौकरियां

सूत्र ने कहा, ''हमें वेतन बढ़ोतरी और बोनस के बारे में व्यक्तिगत रूप से सूचित किया गया है.'' साथ ही उन्होंने बताया कि यह बढ़ोतरी व्यक्तिगत प्रदर्शन के आधार पर 4 से 12 फीसदी तक है.

उन्होंने बताया कि यह बढ़ोतरी एक अक्टूबर से लागू है. जबकि आमतौर पर वेतन प्रत्येक वित्त वर्ष की शुरुआत में एक अप्रैल से बढ़ाया जाता था. इस संबंध में पुष्टि के लिए एक्सिस बैंक के प्रवक्ता को एक ईमेल भेजा गया था, जिसका कोई जवाब नहीं आया.

इसे भी पढ़ें : अच्‍छे इंक्रीमेंट के लिए अभी दो साल करना पड़ेगा इंतजार : एक्‍सपर्ट्स

इससे पहले आईसीआईसीआई और एचडीएफसी बैंक ने भी इसी तरह का फैसला लिया था. आईसीआईसीआई बैंक ने अपने एक लाख कर्मचारियों में से 80 हजार कर्मचारियों को बोनस दिया था और सैलरी बढ़ाई थी. यह फैसला जुलाई से लागू हुआ है.

बैंकों ने यह फैसला ऐसे समय में लिया है जब कोविड-19 की वजह से प्रदर्शन कुछ खास अच्छा नहीं रहा है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

एक्सिस बैंकवेतन में बढ़ोतरीकर्मचारियों का वेतनकोरोना की महामारीलॉकडाउन

ETPrime stories of the day

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Recent hit

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.
Electric vehicles

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.

11 mins read
Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed
Environment

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed

6 mins read

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.अधिकतर निवेशक इक्विटी फंड्स में निवेश करने के लिए सिस्टेमैटिक इंवेस्टमेंट प्लान (सिप) को तरजीह देते हैं. हाल के समय में सिप को बहुत अधिक लोकप्रियता मिली है.म्‍यूचुअल फंडों के एक्सपेंस रेशियो के बारे में यहां जानिए सब कुछ

एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.2020 के पहले छह महीनों में केपजेमिनी ने 9,500 लोगों की भर्ती की है. सेकेंड हाफ में उसकी 13,500 लोगों को रिक्रूट करने की योजना है.वित्तीय लक्ष्‍यों तक जल्दी पहुंचने के लिए इक्विटी या डेट फंड में से किसमें निवेश करें?

वित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई.एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है.सितंबर में नियुक्ति गतिविधियों में 24% की बढ़ोतरी : रिपोर्ट

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
बेटा आ जाओ

जून में गिरावट के बाद पिछले दो महीनों में एक्टिव जॉब ओपनिंग्‍स में 74 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. कंपनियों को कोविड की महामारी खत्‍म होने के बाद प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने की उम्‍मीद है. वे इसके लिए खुद को तैयार रखना चाहती हैं.

पोकर पीला

पेटीएम के सीएचआरओ रोहित ठाकुर ने ईटी को बताया कि पिछले तीन से चार महीनों में कंपनी ने करीब 700 लोगों की भर्ती की है. इन्‍हें ऑनलाइन रिक्रूट किया गया है.

मछली पकड़ना

सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी.

ऑनलाइन कैसीनो जो पेपैल स्वीकार करता है

फ्रैंकलिन टेम्पलटन म्यूचुअल फंड की बंद हो चुकी स्कीमों के निवेशकों को इस हफ्ते पैसे मिल जाएंगे. छह स्कीमों के निवेशकों को 2,962 करोड़ रुपये इस हफ्ते मिल जाएंगे.

शतरंज 4.2.3 मॉड एपीके

बाजार नियामक सेबी ने एक्सपेंस रेशियो की सीमा तय की हुई है. ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम के एयूएम के आधार पर सेबी ने विभिन्न स्‍लैब बनाए हैं.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी